जिस प्रकार अपने उत्पादों को रखने के लिए आपको एक दुकान रूपी स्थान की आवश्यकता होती है, ठीक उसी प्रकार आपकी बिज़नेस website को online प्रदर्शित होने के लिए web hosting सेवा की जरूरत होती है|

सीधे और आसान शब्दों में –web hosting आपकी वेबसाइट फाइल्स को storage space यानि रहने की जगह और access यानि सब लोगों तक पहुँचने का जरिया प्रदान करती है “|

Web hosting कैसे कार्य करती है?

होस्टिंग सेवा आपकी वेबसाइट फाइल्स को web servers (उच्च स्तरीय कम्प्यूटर्स ) पर store कर देती है| जब कोई भी आपकी वेबसाइट तक पहुँचने के लिए उसका address या URL अपने browser में लिखता है, तब ये web servers उस ग्राहक के अनुरोध को स्वीकार करते हुए उसके कंप्यूटर तक आपकी वेबसाइट फाइल्स की एक कॉपी पंहुचा देती है, जिसके परिणामस्वरूप ग्राहक के कंप्यूटर पर आपकी वेबसाइट खुल जाती है|

Web hosting ki karya pranali
“Before the Acronis implementation, there was a huge risk that malware could take down our company. Now, with Acronis, I can say that we’ve done everything possible to protect our data from an attack.” CIO, high performance manufacturing company.
Read details in a report by Forrester.

Web होस्टिंग के प्रकार

वेब होस्टिंग उद्योग में विभिन्न प्रकार की होस्टिंग सेवाएं उपलब्ध हैं।

१. Shared Server होस्टिंग
२. Virtual Private Server (VPS) होस्टिंग
३. Dedicated Server होस्टिंग
४. Cloud  होस्टिंग
५. WordPress होस्टिंग

आपको किस प्रकार की होस्टिंग लेनी चाहिए ये आपकी वेबसाइट की आवश्यकताओं पर निर्भर करता है क्योंकि हर बिज़नेस/वेबसाइट की जरूरतें अलग- अलग होती हैं जिनको ध्यान में रखते हुए ही सही होस्टिंग का चुनाव करना चाहिए|

आइये होस्टिंग के विभिन्न प्रकारों के बारे में जानते हैं विस्तारपूर्वक-

१. Shared Server होस्टिंग

ये होस्टिंग एक हॉस्टल में रहने के सामान है| जिस प्रकार हॉस्टल में आप बहुतों के संग अपने रहने का स्थान बांटते हैं, उसी प्रकार इस होस्टिंग प्रकार के अंतर्गत एक physical server पर बहुत सारी websites की मेज़बानी की जाती है। Shared server इन सभी websites को web space और CPU, RAM जैसे संसाधनो को एक साथ इस्तमाल करने की सुविधा उपलब्ध कराता हैं जिसके परिणामस्वरूप इस होस्टिंग प्रकार की लागत बाकी दोनों प्रकार की होस्टिंग्स से कम होती है।

अतः अगर आप एक सीमित बजट के start-up है और आपको लगता है कि आपका वेबसाइट यातायात भी सीमित रहेगा तो शेयर्ड होस्टिंग आपके लिए बढ़िया विकल्प है|

२. Virtual Private Server होस्टिंग

ये होस्टिंग एक फ्लैट में रहने के सामान है, जहाँ आप भले ही आप अपना main गेट सबके संग शेयर करे पर अपने घर पर एक अन्य द्वार होने से आपको अपनी निजता भी प्राप्त होती है|

VPS होस्टिंग virtualization तकनीक का प्रयोग करती है, जिसके अंतर्गत एक physical server को virtually विभिन्न servers में विभाजित किया जाता है, परिणामवश एक ही server पर होते हुए भी बाकी websites आपके हिस्से के web space और संसाधनो का उपयोग नहीं कर पाती हैं| इस कारण ये होस्टिंग आपको निजता और सुरक्षा जैसे लाभ प्रदान करती है|

अतः अगर आप कम लागत में dedicated server की विशेषताओं का लाभ उठाना चाहते हैं तो VPS होस्टिंग का चुनाव करें| 🙂

३. Dedicated Server होस्टिंग

ये होस्टिंग एक बंगले में रहने के सामान है, जहाँ आप के पास संपूर्ण नियंत्रण तो है पर आप सब रख रखाव का खर्च भी स्वयं ही उठाते हैं|

Dedicated server होस्टिंग आपको अपने server पर पूरा नियंत्रण देती है, जहां आपको प्रबंधन के लिए root access प्रदान किया जाता है|

Also Read: What is Digital Information Security in Healthcare Act (DISHA) in India?

एक और खास बात,इस होस्टिंग में आपके server और संसाधन का उपयोग दूसरो के लिए प्रतिबंधित होता है,उन्हें सिर्फ आप उपयोग में ले सकते है इसीलिए dedicated होस्टिंग में सुरक्षा स्तर उच्चतम होता है|

Dedicated होस्टिंग अपने उच्च प्रदर्शन,सुरक्षा और नियंत्रण जैसे फायदों के कारणवश e-commerce, गोपनीय और संवेदनशील तथ्यों वाली, बड़े database एवं उच्च यातायात वाली साइटों के लिए आदर्श होस्टिंग समाधान मानी जाती है|

अतः अपने बिज़नेस की आवश्यकताओं को पहचानें, निर्धारित करें और उनके अनुसार सही वेब होस्टिंग का चुनाव करें|

४. Cloud  होस्टिंग

Cloud  होस्टिंग इस समय वेब हॉस्टिंग का सबसे बेहतर तरीका है । इसमें डाउनटाइम  न  के बराबर होता है । इसमें वेब हॉस्टिंग प्रदाता आपको सर्वर्स का एक क्लस्टर प्रदान करता है और आपकी फाइल्स और रिसोर्सेज की कॉपी उन सर्वर्स पर बना दी जाती है ।

अगर कोई क्लाउड सर्वर किसी वजह से आपको सर्विसेज देने में असमर्थ होगा तो आपकी साइट का सारा ट्रैफिक दूसरे क्लाउड सर्वर पर automatically भेज दिया जाता है । इसके अनेक फायदे हैं – सर्वर फेल होने की स्तिथि में भी आपके कस्टमर्स की सर्विसेज पर कोई असर नहीं पड़ेगा, ये affordable होता है क्यूंकि आप केवल उन रिसोर्सेज का भुगतान करते है जिन का आप इस्तेमाल करते हैं । ये VPS से ज्यादा स्केलेबल होता है ।

५. WordPress होस्टिंग

वर्डप्रेस  होस्टिंग एक प्रकार की shared होस्टिंग ही होती है, जिसको मुख्यतः वर्डप्रेस साइट्स के लिए ही बनाया गया है ।इस में आपका सर्वर वर्डप्रेस के लिए ही configure किया जाता है और साइट के साथ पहले से ही जरुरी plugins जिससे साइट सिक्योर बने, caching में मदद हो, दे दिए जाते है । ZNetLive की WordPress होस्टिंग के साथ WordPress  toolkit, SEO toolkit जैसे अति महत्वपूर्ण टूल्स दिए जाते हैं ।

वर्डप्रेस के लिए अति अनुकूल होने के कारण यह होस्टिंग आपकी वर्डप्रेस साइट को अद्वितीय स्पीड प्रदान करती है और आप अपनी साइट की देखरेख आसानी से कर पाते हैं ।

Web होस्टिंग कहाँ से ले?

IT उद्योग में वेब होस्टिंग प्रदाताओं की भीड़ में best web hosting company का चुनाव करना थोड़ा कठिन है परन्तु अगर आप कुछ कारकों का ध्यान रखते हुए चुनाव करें, तो आपकी चुनाव प्रक्रिया सरल हो जायेगी|

Web Hosting लेने से पहले निम्नलिखित तथ्यों को जानना आवश्यक है –

वेब होस्टिंग पैकेज की कीमतें , free value added services (जो पैकेज के साथ आतीं हैं)के रूप में प्रदाता क्या देता है , प्रदाता का support माध्यम कितना समर्पित है ,कंपनी की समीक्षा कैसी है इत्यादि|

“Acronis is directly responsible for saving our company 1200 hours per year for IT operations staff in backup and recovery workflows.” CIO, high performance IT company.
Read details in a report by Forrester.

Services ZNetLive offer:

Domain Names India

Shared Hosting India

WordPress Hosting India

VPS Hosting India

Dedicated Server India

अगर आपको इस लेख को लेकर किसी प्रकार का कोई भी संदेह है या इसे बेहतर बनाने के लिए कोई सुझाव है तो हमें जरूर बताएं|